चुदाई का तोहफा मिला

हाय फ्रेंड्स, Antarvasna मैं डिम्पल आप सभी Kamukta कैसे है हिन्दी सेक्स की कहानियों के अदभुत मंच कामलीला डॉट कॉम पर आप सभी का बहुत-बहुत स्वागत करती हूँ इस मंच पर यह मेरी पहली कहानी है मैं कोलकाता के ही पास के एक गाँव की रहने वाली हूँ और मैं कोलकाता में एक प्राइवेट कम्पनी में काम करती हूँ और यहीं पर एक किराये के फ्लेट में रहती हूँ और मैं भी आप सभी की तरह पिछले कुछ महीनों से इस वेबसाइट की सभी कहानियों को पढ़ती आ रही हूँ मुझे इस वेबसाइट की सभी कहानियाँ बहुत अच्छी लगती है ।

और मैं भी आज आप लोगों के साथ अपना एक सेक्स अनुभव साझा करना चाहती हूँ अब मैं पहले आप सभी को अपना एक छोटा सा परिचय दे देती हूँ मैनें आप सभी को अपना नाम तो पहले ही बता दिया है मेरी उम्र 26 साल की है और मेरा रंग थोड़ा गेहुँवा है पर मेरा फिगर 34-28-36 का है जो कि बहुत ही कमाल का है जिसे मैनें बॉडी मसाज से बहुत अच्छी तरह से बनाया हुआ है मुझे देखकर किसी भी जवान या बूढ़े का भी लंड खड़ा हो सकता है ।

तो मेरे प्यारे दोस्तों अब मैं अपने साथ हुई घटना को आप सभी को बताने जा रही हूँ जो कुछ इस तरह से है…

मेरे साथ घटी यह घटना मेरे पिछले बर्थ-डे से 2 दिन पहले की है मेरा बर्थ-डे था तो मैनें अपने सभी दोस्तों के लिए एक पार्टी दी थी इसलिए मुझे तो सबसे अच्छा लगना ही था तो मैनें सोचा क्यों ना पार्लर जाकर बॉडी मसाज और थोड़ा सा मेकअप करवा लेती हूँ तो मैनें ब्यूटी पार्लर में दिन के 3 बजे का समय ले लिया था और मैं पार्लर गई और वहाँ जाकर मैनें पता किया तो मुझे पता चला कि वहाँ की लेडीज मसाजर को किसी जरूरी काम की वजह से एकदम से जाना पड़ गया था तो फिर उन्होनें मुझे एक जेंट्स मसाजर का विकल्प दिया तो मैनें 5 मिनट तक सोचा और बर्थ-डे की पार्टी में समय की कमी की वजह से हाँ बोल दिया और मुझे यह भी लगा कि आदमी में औरत से ज्यदा ताक़त होती है उससे मेरी मसाज भी अच्छे से हो जाएगी और फिर पार्लर के मालिक ने मुझे मसाज वाले कमरे में भेज दिया और कहा कि आप थोड़ा इन्तजार कीजिये बस अभी दो 2 मिनट में मसाज बॉय आ रहा है और मैं मसाज रूम में जाकर बैठ गई और फिर कुछ ही देर में मसाज बॉय आ गया वह जैसे ही मसाज रूम के अन्दर आया तो मैं उसको देखकर एकदम से चौंक गई क्योंकि वह बहुत ही सुन्दर और अच्छी कद-काठी का था।

फिर हमने एक दूसरे को हाय बोला और उसने अपना नाम साहिल बताया था फिर उसने मुझसे मेरे कपडे बदलने को बोला और फिर मैं चेंजिंग रूम में गई और अपने कपड़े बदल लिए मैनें अब जो कपड़े पहने हुए थे वह सिर्फ़ ब्रा और पैन्टी ही थी और उनके ऊपर एक गाऊन पहना हुआ था तो फिर साहिल ने कहा कि आप अपने इस गाऊन को उतारकर मसाज टेबल पर लेट जाओ और फिर मैनें थोड़ा झिझकते हुए जैसे ही अपने गाऊन को उतारा तो साहिल तो बस मुझे ऊपर से नीचे तक देखने लगा पर मैं उसको नज़र अंदाज करके मसाज टेबल पर अपने पेट के बल लेट गई।

और फिर उसने मेरी पीठ की मसाज करते हुए मेरी मसाज शुरू कर दी और फिर जब मेरी नज़र उसकी पेन्ट के उभार पर गई तो उसकी पेन्ट के अन्दर उसका लंड मुझे देखते ही खड़ा हो गया था मुझे तो ऐसा लग रहा था की वह मेरे बारे में ही सोच रहा था फिर मेरी पीठ के बाद उसने मेरी गांड पर भी तेल लगाना शुरू किया और साथ-साथ मेरी गांड को भी दबाने लगा मुझे भी उसका ऐसा करना कुछ-कुछ अच्छा लग रहा था इसलिए मैनें उससे कुछ नहीं बोला और चुपचाप मसाज का मजा लेती रही और फिर उसने मुझे सीधा होने को कहा और मेरे सीधे होते ही मेरे पेट पर तेल लगाने लगा और उसके बाद मेरे हाथों और पैरों की भी मसाज करी जिसमें मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था और मैं अब थोड़ी बहुत उत्तेजित भी हो रही थी।

फिर उसने मुझसे बोला मेम. तो मैनें उसको टोकते हुए बोला कि मुझे सब लोग प्यार से डिम्पी बुलाते है तो तुम भी मुझे डिम्पी ही बुलाओ तो फिर उसने थोड़ा झिझकते हुए बोला कि डिम्पी क्या मैं तुम्हारे बब्स की भी मसाज कर दूँ? तो मैनें उसको बोला कि तुमको जहाँ की भी मसाज करनी हो तुम कर सकते हो मुझे इसमें कोई दिक्कत नहीं है तो फिर मेरे ऐसा कहने के बाद उसने मेरी ब्रा उतारी और बहुत सारा तेल मेरे बब्स पर डाला और मेरे बब्स को सहलाने लगा और हल्के-हल्के हाथों से दबाने भी लगा था उसके ऐसा करने से अब मैं और भी ज्यादा उत्तेजित होने लगी और अब मैं उसको बोलने लगी कि थोड़ा और ज़ोर से दबाओ ना मुझे बहुत अच्छा लग रहा है।

फिर एकदम से मेरा हाथ उसकी पेन्ट के उभार पर चला गया तो उसने अपनी पेन्ट की चेन को खोल दिया और अन्दर हाथ डालकर अपना लंड बाहर निकाला तो मैं तो बस उसके लंड को देखती ही रह गई 7.5 इंच लम्बा और 3 इंच के लगभग मोटा लग रहा था उसका लंड एक पल के लिए तो मैं डर ही गई थी इतना बड़ा लंड देखकर फिर उसने उसका लंड मेरे हाथ में पकड़ा दिया और मैं उसके लंड को सहलाने लगी तो उसने मुझसे पूछा कि कैसा लगा मेरा लंड? उसको अपने लंड पर बड़ा घमण्ड हो रहा था तो मैनें उसके ही अंदाज़ में उसको जवाब दिया कि अभी तो तुमने मेरी चूत के दर्शन ही कहाँ किये है तो उसने कहा कि अगर तुम कहो तो अभी कर लूँ दर्शन तो मैनें भी उसको कहा कि मैनें तुमको रोका ही कब था मेरी सहमती मिलने के बाद वह मेरी पैन्टी के ऊपर से ही मेरी चूत को हाथ लगाने लगा तो मैनें उसको कहा कि ऐसे मज़ा नहीं आएगा।

तो फिर उसने मेरी पैन्टी के अन्दर अपना हाथ डाल दिया और मेरी चूत में अपनी एक ऊँगली करने लगा तो मैनें उसको बोला कि अच्छी तरह से करो ना तो फिर उसने मेरी पैन्टी को पूरा ही उतार दिया और मेरी चूत पर भी बहुत सारा तेल लगा दिया और मेरी चूत को मसलने लगा तो उसका ऐसा करना मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था तो मैनें भी उसका लंड अपने मुहँ में ले लिया और उसके लंड को चूसने लगी अब वह भी मेरी चूत में बहुत जोर-जोर से ऊँगली करने लगा और अपने दूसरे हाथ से मेरे बब्स को भी मसलने लगा और फिर करीब 10-12 मिनट के बाद मेरी चूत पूरी ही गीली हो गई थी और मैं पूरी तरह से उत्तेजित भी हो गई थी।

तो मैनें उससे कहा कि साहिल अपने इस लम्बे और मोटे लंड से मेरी इस चूत की प्यास बुझा दो प्लीज़ तो उसने भी बिना देर करें ही मेरी चूत में अपना लम्बा सा 7.5 इंच का लंड घुसा दिया चूत के पानी और तेल की चिकनाहट की वजह से उसका मोटा लंड फक से मेरी चूत में घुस गया उस चिकनाई की वजह से मुझे बस हल्का सा ही दर्द हुआ था और फिर वह ज़ोर-ज़ोर से अपने लंड को मेरी चूत में अन्दर-बाहर करने लगा और अब मैं भी हल्के दर्द और उत्तेजना से आहह… आआआ अहह….इस्सस करने लग गई थी।

मुझे उसकी चुदाई बहुत मज़ा दे रही थी और फिर 15 मिनट के बाद उसने मुझे घोड़ी बनाया और मेरी गांड में भी ऊँगली करने लगा और मेरी गांड को भी खूब चिकना करके उसमें भी अपना मोटा लंड डालकर मुझे पीछे से चोदने लगा मेरी गांड में उसका लंड जाने से मुझे दर्द भी हो रहा था पर मेरे शरीर में वासना की जो आग जल रही थी उसके आगे वह दर्द कुछ भी नहीं था और मैं उत्तेजित होकर उससे बोलने लगी कि और ज़ोर से करो आज फाड़ दो मेरी गांड को और तेज-तेज करो तो फिर उसने भी अपनी स्पीड को और तेज कर दिया।

और मैं समन्दर में उठने वाली एक तेज लहर की तरह तेजी से अकड़कर झड़ गई अब मेरी चूत और गांड की आग तो शांत हो गई थी पर उसके लंड को अभी और भी मेरी चूत को चोदना था तो उसने अपने लंड को फिर से मेरे मुहँ में डाला और अन्दर-बाहर करने लगा और साथ ही मेरी चूत पर भी फिर से तेल डालकर उसको मसलने लगा फिर 10 मिनट में ही मेरी चूत फिर से चुदाई के लिए तैयार हो गई और वह फिर से मुझे चोदने लगा और मुझे भी फिर से मज़ा आने लगा मैं आहह…..अहहा… करके बोलने लगी कि साहिल क्या दमदार लंड है तुम्हारा तो बहुत मजा दे रहा है यह मेरी चूत को तो फिर वह भी मुझसे बोला कि तुम्हारी चूत भी कोई कम नहीं है।

और फिर 15 मिनट बाद उसने मुझे टेबल के सहारे खड़ा कर दिया और फिर से मेरी गांड में अपना लंड डालकर धक्के मारने लगा और फिर करीब 10 मिनट के बाद हम दोनों ही पूरी तरह से थक गए और लेट गए लेकिन ना मेरी चूत को और ना ही उसके लंड को शांति मिली थी तो अब हम 69 की पोजीशन में हो गए और वह मेरी चूत को चाटने लगा और मैं उसके लंड को चूसने लगी तो फिर 10 मिनट के बाद ही मेरी चूत का पानी निकल गया और उसके लंड का भी और हम दोनों को भी मज़ा आ गया था।

और फिर मैं जैसे ही अपने कपड़े पहनने लगी तो साहिल का लंड मुझे देखकर फिर से चोदने के लिए खड़ा हो गया तो उसने अपने हाथ में तेल लिया और आकर मेरे बब्स पर लगाकर उनको चूसने लगा तो मैनें उसको बोला कि अब बस बहुत हो गया तो उसने मुझसे कहा कि डिम्पी मेरी जान प्लीज़ मेरे लिए एक बार और सही अबकी बार तुमको मैं वह मज़ा दूँगा जिसे तुम हमेशा याद रखोगी तो मैनें उसको कहा कि ठीक है देखते है कि तुम और कितना मज़ा देते हो मुझे तो फिर अब उसने मुझे नीचे जमीन पर ही लेटा दिया और मेरे मुहँ में अपना लंड डाल दिया और खुद उल्टा हो गया और मेरी चूत में बहुत सारा तेल लगाकर उसमें ऊँगली करने लगा और फिर चूत को मसलने भी लगा और उसने जैसे ही मेरी चूत को मसला मेरी उसके लंड को चूसने की रफ्तार भी और ज्यदा तेज हो गई थी और उससे भी रुका नहीं गया और अब वह भी मेरी चूत को चाटने लगा और बोला कि क्या चूत है तुम्हारी इसको तो बार-बार ही चोदने का मन कर रहा है मेरा तो तुम्हारी यह चूत मेरे लंड को तो शान्त ही नहीं होने दे रही है।

तो मैनें भी उससे कहा कि तुम्हारा लंड भी तो बहुत कमाल का है आज इसने मेरी चूत को कितना मजा दिया है अब मेरी चूत भी फिर से चुदने के लिए तैयार हो गई थी तो मैनें साहिल से कहा कि चोद दो अब मेरी इस चूत को यह तुम्हारे लंड से फिर से चुदना चाहती है तो फिर उसने मुझसे बोला कि अब किसी नए तरीके से करेगें तो मैनें उसको बोला कि जो भी करना है करो पर बस अब प्लीज़ जल्दी से चोदो मुझे।

तो अब उसने मुझे उल्टा लेटा दिया और मेरे पीछे की तरफ़ से अपना लंड मेरी चूत में डाला और साथ ही साथ मेरे बब्स को भी ज़ोर-ज़ोर से दबाने लगा इससे मैं अब और भी उत्तेजित होने लगी और मैनें उसको बोला कि साहिल अपने पूरे दम से चोदो मुझे तो वह भी अब अपनी पूरी ताक़त लगाकर मुझे चोदने लगा अब तो पूछो ही मत इतना मज़ा आने लगा मुझे कि मैनें उससे कहा कि अबकी बार मेरी गांड को भी ऐसे ही चोदना तो वह बोला अभी तो तुम्हारी चूत को तो अच्छे से चोद लूँ फिर तुम्हारी गांड का भी फिर से नम्बर आएगा पूरे 20 मिनट के बाद मेरी चूत को तो शांति मिल गई और अब वह मेरी गांड को चोदने लगा उसका पूरा 7.5 इंच का लंड मेरी गांड को बहुत मजा दे रहा था तो मैनें उससे कहा कि मुझे और मज़ा दो उसने अपनी दो ऊँगलियां भी मेरी गांड में डाल दी और मेरी चूत में भी फिर से ऊँगली करने लगा तो मैनें उससे कहा कि मुझे इतना मज़ा आज से पहले कभी नहीं आया था और मैनें उससे यह भी कहा कि तुम्हारा लंड बहुत ही शानदार है इसने तो आज कमाल का मज़ा ला दिया फिर उसने भी मुझे जवाब दिया कि डिम्पी तुम्हारे बब्स जैसे बब्स को मैनें आज तक कभी नहीं देखा था और ना ही दबाया था और तुम्हारे जैसी कमाल के फिगर वाली लड़की कसम से मैनें आज तक नहीं देखी थी।

अब मैनें अपने कपड़े पहने और उसको बोला कि 2 दिन बाद मेरा बर्थ-डे है और तुमको भी जरूर आना है और फिर वह मेरे बर्थ-डे पर भी आया और सभी के चले जाने के बाद हमने उस रात भी पूरी रात खूब चुदाई करी थी

अब तो मैं उसको जब भी मेरा मन करता है अपने फ्लेट पर ही बुला लेती हूँ और हम दोनों ही खूब मजे करते है।

तो दोस्त यह मेरी कहानी… कैसे लगी आपको

धन्यवाद प्यारे पाठकों !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *