लेने के देने पड़ गये 2

लेने के देने पड़ गये 2

मैंने तय कर लिया अब जो हो लेकिन मजा पूरा लिया जय मैंने ब्रा अलग कर उसके बोबे दबाना चालू किया मै जैसे जैसे उसके बोबे दबता उसका लण्ड टाइट होता जा रहा मैंने पकड़ कर देखा बिलकुल लड़को जैसा था मैंने उसे मजा देने के लिया उसका ;लण्ड अपने मुह में ले लिया वो बोली ओह …..ओह ……ओह……या या…..या ……या ……… मैंने मुह हटा कर पूछा कैसा लगा बोली वाह …..वाह…… बहुत मजा आया प्लीज फिर से करो ….|

मैंने उसका लंड मुह में लेकर चूसना शुरू कर दिया उसे मजा आने लगा वो ऑफ़ ….. ऑफ़ .. ऑफ….. करने लगी . अब मैंने उसे अपना लंड चूसने को कहा वो तैयार हो गयी पर उससे मेरा लंड नहीं चूसा गया वो घिन के मारे उलटी निकालने लगी . मैंने कहा रहने दो |

इसके बाद मेरी इच्छा उसके चिकने लंड से गांड मराने की हो गयी |

मैंने उसके लंड पर क्रीम लगा दी और अपनी गांड पर भी क्रीम लगा ली और घोडा बन कर गांड मराने को तैयार हो गया वो लंड लेकर मेरी गांड पर चढ़ गयी उसने धक्का मारा लंड स्लिप हो गया तब मैंने उसे aगांड मारना सिखाया उसके लंड के सुपाड़े को गांड के मुह पर जमा कर उसे लंड धीरे धीरे दबाने को कहा लंड घुसने लगा जब पूरा लंड घुस गया तो वो मेरी पीठ ठोक कर मुस्कुरा कर बोली थैंकू ……… अब वो मेरे कहने पर धीरे धीरे धक्का लगा कर गांड मारने लगी मुझे भी मजा आने लगा मैंने अपना लंड उसे पकड़ा कर मुठ्याने को कहा वो गांड मराते हुए लंड हिलाने लगी अब मैंने उसे स्पीड बढ़ाने को कहा ..हफ …हफ …हफ …..कर रही थी उसका लंड बहुत कड़ा हो गया था …….मुझे दर्द भी होने लगा …..मै उ उ …ऊ…ऊ……इ ई ई…ई….ई…ई….ई ….ई…….एई…एई….उई ..उई ..उई …….उई…… करने लगा कुछ सेकंड बाद उसने मेरी गांड में पानी छोड़ दिया मुझे रहत मिली दो तीन झटके मार कर उसका लंड शांत हो गया …… इस बीच मेरा लंड भी मुठ खा कर कड़ा हो गया उसने शीतल के हाथ में पिचकारी छोड़ दी ……वो पसीने पसीने हो चुकी थी बोली थैंक्स अ लॉट मै ये कभी नही भूल सकती |

हम दोनों अगल हो गए रात बहुत हो चुकी थी वो बोली तुम यही सो जा ओ…|

वह मेरे साइन पर सर रख कर एक पत्नी की तरह सो गयी …….|

करीब चार बजे हम कोनो की नीं टूटी … वो मेरे लिया चाय बन कर लायी बोली …..हाय डिअर तुम कितने अच्छे हो ….. किश करने लगी एक बार फिर वासना भेदने लगी ……. थोड़ी देर बाद हम एक दूसरे का लंड पकड़ कर हिला रहे थे …..
वो चित लेट गयी और अपने अंडवे हटा कर बोली देखो मेरे पास चूत भी है मै इसे भी चुदवाना चाहती हूँ मै खुस हो गया उसकी बहुत चूत टाइट थी ….उसने लड़ घुसाना बहुत ही नुश्किल थे मैंने चूजिया दबाई उस्ली चूत क्रीम लगा कर उंगली डाली तो चीख पड़ी ऑच ….हाय मार गयी ……. मैंने उसके सर पर हाथ रखा धीरे धीरे उंगली अंदर बहार की …… वो कुछ सहन्त हो गयी ……… आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है | मै समझ गया ये आसानी से नहीं चुदेगी …. मैंने लंड पर बहुत क्रीम लगाई ….. उसकी चूत पर भी क्रीम लगा दी फिर पलंग पर बैठ गया उसे मेरी गोदी में बिठाया फिर उसकी कमर पकड़ कर उसके चूतड़ ऊपर किये लंड को चूत के पर जमाया उसे लंड पर बैठने को कहा…… उसके भारी बजन से चूत में लंड घुसने लगा वो दर्द से बिल्बलाने लगी लंड निकालने के लिए ऊपर उठाने लगी पर मैंने उसे कास कर पकड़ लिया और निचे दबाने लगा …..वो बोली नहीं ….नहीं आ …आ….नहीं .न न न न..न… ई .ई .ई ई ..ई..ई……….इ… पर मैंने उसे दबोचे रखा …….उसका लंड हिलाया ….. बोब्बे दबाये ……. लगभग २ मिनट्स में वो सामान्य हो गयी ……अब उसे चोदना चालू किया …उसकी सील टूट गयी थी उसकी कसी चूत मारने में बहुत मजा आया …….. उसका लंड हिलाकर बोबेदबाये .तो मजे से मेरे लंड पर चूतड़ पकट पटक कर चुदने लगी ……… हम ही हफ …हफ …हफ..हफ कर रहे थे ………हाय राजा मजा आगया …हाय राजा …….तुममे तो मेरी ………. हाय जोर से ………हाय थोड़ी देर बाद दोनों शांत हो गए
इसके बाद तो उसे चुदाई का ऐसा चस्का लगा की वो हर वक्त बस मोैका ही तलाश करती थी जब भी मोैका मिलता मुझसे लंड चुसवाती मेरी गांड मरती और अपनी चूत भीचुदाती …..हाँ अब वो मेरा लंड भी चूसने लगी थी …..
हम एक दूसरे के बिना नहीं रह सकते थे मुझे चूत और लंड दोनों की जरुरत थी उसे लंड और गांड दोनों चाहिए थे हम एक दूसरे के पूरक थे | आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है |

बात आगे बढ़ाने पर हम दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया उसकी मम्मी उसकी मम्मी ने सहमति दे दी और मेरे घर वालो को तो हकीकत पता ही नहीं थी ….. मेरे जोर देने पर वो लोग भी मान गए हमारी शादी हो गयी ……|

कान्हा तो मै लड़की को चोद्ने गया था और कान्हा मेरी शादी ऐसी लड़की से हो गयी जो अब जिंदगी भर मेरी गांड मारने वाली थी पड़ गए ने लेने के देने फ़िलहाल ये कहानी यही पर ख़त्म कर रहा हूँ इसके आगे भी जिंदगी में बहुत कुछ हुआ इसके आगे की कहानी मै आपको किस्मत के खेल शीर्षक से सुनाउंगा |
आपको ये कहानी कैसी लगी मेल करके अवश्य बताना
आपका गौरव आहूजा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *