ये लड़के भी ना लंड चुस्वाने 2

ये लड़के भी ना लंड चुस्वाने 2

फिर अजय मेरी पीठ दबाने लगा ओर बीच बीच मैं कभी कभी मेरे चूतड़ भी दबा देता था। जब ओर अजय भी टाँगें दबाते दबाते कभी कभी मेरे चुतड़ों के बीच मैं हाथ लगा देता था उनके ऐसा करने से मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था। करीब 1 बज चुका था।

फिर धीरे धीरे राहुल ओर अजय दोनो ही मेरे चुतड़ों को दबाने लग गये मैं कुछ भी नही बोली ओर मज़े से लेटे रही मैं तो चाहती ही थी की वो आगे बड़े की तभी दोनो ने मेरी टाँगों को सहलाना शुरू कर दिया।

मैं एक दम से सीधी हो गई तो वो एक दम से डर गये तो मैने हंसते हुए कहा की क्या हुआ तो बोले की कुछ नही तो मैने कहा की एक बात कहूँ वो बोले कहिए तो मैने कहा की जो तुम दोनो कर रहे थे मुझे बहुत मजा आ रहा था जरा फिर से करो ना ओर अब मैं उनके सामने सीधी लेटी हुई थी।

दोनो ने एक दूसरे की तरफ देखा ओर फिर दोनो ही मेरी टाँगें सहलाने लगे ओर अजय ने तो झट से अपना एक हाथ मेरी चूची पे रख दिया ओर लगा उन्हे मसलने मैने नाईटी ही पहनी हुई थी। अब अजय ओर राहुल दोनो ही मेरी एक एक चूची को सहला रहे थे तो मैने उनसे कहा की बेटा क्या क्या चाहिए तो दोनो एक साथ बोले माँ दूध पीना है तो मैने कहा की तो फिर देख क्या रहे हो पी लो क्या माँ कभी अपने बेटो को दुदू पीने से माना करती है भला।

मैं तो मस्त हो रही थी पूरे मूड मैं थी मैं। दोनो ने ही मुझे उठा कर मेरी नाईटी उतार दी ओर फिर ब्रा भी उतार दी ओर दोनो ही एक एक बोब्स को चूसने लगे मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था। मैं मस्त होने लगी थी मेरी चूत मैं हलचल होने लगी थी।

फिर मैने उनसे कहा की अपने अपने कपड़े उतार दो तो दोनो ने ही अपने अपने कपड़े उतार दिए ओर सिर्फ़ अंडरवेयर मैं ही रह गये। फिर से वो मेरे बोब्स चकने लगे ओर इस बार उन्होने मेरी पेंटी भी नीचे कर दी ओर दोनो ही मेरी चूत को भी सहलाने लगे।

उनके लंड उनके अंडरवेवर मैं फंनफना रहे थे मैने दोनो के अंडरवेयर के बीच मैं ही दोनो के लंडो को पकड़ लिया ओर सहलाने लगी ओर उनके लंडो को पकड़ते ही मुझे लगा जैसे मैं कोई गरम रोड पकड़ी हो दोनो के लंड रोड की तरह गर्म थे। फिर मैने उनके अंडरवेयर उतार दिए अब हम तीनो बिल्कुल नंगे थे।

राहुल बोला की माँ मुझे आपकी चूत चाटनी है तो अजय बोला की मुझे अपना लंड चुसवाना है तो मैने कहा की जो दिल करता है करो मैने तुम्हे कब मना किया है। फिर राहुल मेरी टाँगों के बीच मैं आ गया ओर मेरी चूत को चाटने लगा ओर अजय ने अपना लंड मेरे मूह मैं घुसा दिया राहुल मेरी चूत को ज़ुबान अन्दर डाल डाल के चाट रहा था ओर कभी मेरी चूत को भी चूसने लगता था।

अब मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था मैं सिसकने लगी थी। अजय का लंड मूह मैं होने की वजह से मेरे मूह से गून गून की आवाज़ें आ रही थी। अजय ने मेरे मूह से अपना लंड निकल लिया तो मैं दोनो के लंडो को सहलाने लगी। ओर कह रही थी. आप ये कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

आ हाईईइ मेरे बेटो अहह खूब चूसो अपनी माँ को आ है उफफफ्फ़ अहह क्या गजब है अहह अहह हाई उफफफफफफ्फ़ बुझा दो आज मेरी आग हाईईईईईईईईईईईईईईई हाईईईईईई ह अफ ओह ओर ज़ोर से अहह राहुल बेटा बहुत मज़ा आ रहा है आ हाईईईईई ओह उफफफफ फफफफफफफफफफफफफफफ फफफफफफफफफफफफफ फफफफफफफफफफफ्फ़ ओर वो तो बस दोनों लगातार लगे हुए थे मेरी चूत ओट बोब्स को चाटने।

फिर राहुल मेरी चूची को दबाने लगा ओर अजय मेरी टाँगों के बीच पहुँच गया ओर मेरी चूत को चूमता हुआ बोला की माँ क्या हम दोनो यहीं से निकले हैं तो मैने कहा की हाँ तुम दोनो यहीं से निकले हो बस फिर क्या था। उसने मेरी चूत मैं अपनी ज़ुबान पूरी घुसा के अंदर बाहर करने लगा मैं मस्ती की चरम सीमा पे पहुँच गई ओर आ हाईईइ उफफफफ्फ़ आ है अजय बेटा बहुत मज़ा आ रहा है।

अहह ओफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ ओर ज़ोर से बेटा तो वो दोनो बोले की माँ असली मज़ा तो अभी आएगा जब हम दोनो आपको चोदेगे तो मैने कहा की सच मैं बेटा अहह अहह उफफफफ्फ़ ओर ज़ोर से आ पी जाओ अपनी माँ का दुदू इसी से ताक़त मिलेगी अहह तो वो बोले की मों आपके दूध की ताक़त ही तो दिखानी है।

आज आपको ओर मैने कहा हाँ बेटा दिखा दो अहह उईईईईईईईईईईईईईईईईइ इ इ इ माआआआ उफफफफफफ्फ़ ओर अजय तो कमाल ही कर रहा था वो तो मेरी चूत को ऐसे चूस रहा था जैसे की लोलीपॉप हो मैं पूरी तरह मस्त हो कर मज़े ले रही थी।

और वो दोनो मुझ पर ऐसे टूटे हुए थे जैसे मुझे खा ही जाएँगे मैं तड़प रही थी अजय इतने प्यार से मेरी चूत को चाट रहा था की उसके पापा ने भी कभी नही चाटी थी ऐसे ओर मैं कह रही थी। आह तुम तो आहह अपने पापा से भी अहह अच्छी चाटते अहह हो बेटा आ उफफफफफफफ्फ़ ओह हाईईईईईईईईईईईईईईईईउ उ उ उ अहह अहह अहह अहह बहुत मस्त कर रहे हो मुझे अहह अहह ओर अब मैं बहुत ही बेचैन हो रही थी मेरी कमर उठ उठ कर उन्हे मुझे चोदने का निमंत्रण दे रही थी।

अब मुझसे रहा नही जा रहा था क्युकी की दो जवान लंड थे मेरे सामने मेरी चूत भी गिली हो चुकी थी। अजय उसे चाटता हुआ बोला की माँ आपकी चूत चिप छिपी सी को हो रही है तो मैने कहा की बेटा ये चिप छिपी नही हो रही है ये तुम दोनो के लंडो को देख कर उनसे चुदवाने के लिए लार टपका रही है बेकरार है ये अब तुम दोनो से चुदवाने को।

सो मैने कहा की अहह बेटा अब चोद भी दो अपनी माँ को अहह अब रहा नही जा रहा है अहह प्लज़्ज़्ज़्ज़ जल्दी करो अहह हाईईईईईईई उफफफफफ्फ़ मत तड़पाओ अब। तो एक बेटा बोला की माँ तोड़ा ओर चाटने दो बहुत मज़ा आ रहा है आपकी चूत को चाटने मैं ओर फिर से ज़ुबान घुसा दी उसने मेरी चूत मैं तो मैने कहा की अहह हाई तुम दोनो भी ना बिल्कुल अपने पापा पे गये हो तो वो बोले की वो कैसे तो मैने कहा की वो भी बिल्कुल तुम्हारी तरह ही मेरी चूत चाटते हैं ओर मुझे अपना लंड चुसवाते हैं ओर बहुत तड़पाते हैं मुझे चोदने मैं।

अहह बेटा आज अपनी माँ को तोड़ा जल्दी चोद लो फिर तो रोज मैं तुम्हारे पास ही हूँ जब भी चाहोगे जितनी चाहोगे चाट लेना मेरी चूत को मैं मना नही करूँगी बस आज मुझे जल्दी चोद दो तो दोनो बोले जो हुकम आपका ओर दोनो ही उठ कर खड़े हो गये।

मैं भी उठ कर बैठ गई मैने देखा की दोनो के लंड मेरी चूत को ही निहार रहे थे ओर खूब हँस रहे थे की आज उसे चोदेगे ओर खूब मज़े करेंगे मैने दोनो के लडों को हाथ मैं पकड़ा ओर बोली की हाईईईईईई तुम्हारे तो तुम्हारे पापा से भी बड़े हैं बहुत मज़ा आएगा। आप ये कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

राहुल बोला माँ आप घोड़ी बन जाइए अजय आपकी नीचे से चूत मैं लंड घुसाएगा ओर मैं आपकी गांड मारूँगा। तो मैने कहा की नही बेटा ऐसे ही बारी बारी चोदो मुझे तो राहुल बोला की माँ मुझे पता है की आपको घोड़ी बन के चुदवाने मैं बहुत मज़ा आता है तो मैने एक दम उसकी तरफ देखा तो वो मुस्कुरा रहा था।

मैने उसे कहा की तुम्हे कैसे पता तो बोला की माँ अभी मूड खराब मत करो जल्दी करो देखो ना हमारे लंड कैसे तेयार खड़े हैं आप को चोदने के लिए वो सब मैं आपको बाद मैं बताऊंगा। अभी आप जल्दी से घोड़ी बन जाइए मैने भी देर करना ठीक नही समझा ओर झट से घोड़ी बन गई तो पहले अजय मेरे नीचे आ गया उसने दो तकिए रखे अपनी पीठ के नीचे ओर अपने लंड को मेरी चूत पे टिका दिया।

ऐसा करने से पहले उसने तोड़ा तेल लगा लिया था अपने लंड पर। मैने उसे कहा की यहीं पर क्यूं रोक दिया बेटा अन्दर भी डाल दो तो वो बोला की नही माँ मैं ओर भाई एक साथ ही चोदेगे आपको ओर उधर राहुल ने अपने लंड पे तेल लगा लिया था ओर उसने भी अपने लंड को मेरी गांड के छेद पे रख दिया ओर बोला की अजय जैसे ही मैं तीन बोलूँगा एक साथ ही माँ की गांड ओर चूत मैं हमारे लंड होने चाहिएं।

अजय बोला की ठीक है ओर फिर तीन कहते ही दोनो ने एक जबरदस्त ज़टके से अपने लंड घुसा दिए मेरी गांड मैं ओर चूत मैं ओर मैं भी तड़प उठी ओर मेरे मूह अआहह मर गई निकल गया। अजय के लंड से तो कम लेकिन राहुल के लंड ने गांड मैं जाते ही दर्द ज़रूर हुआ था।

दोनो बोले अरे माँ कोई बात नही ओर राहुल बोला की देखो अजय मैने तुम्हारी माँ की गांड मैं लंड घुसा ही दिया है तो अजय बोला की भाई मैने भी आपकी माँ की चूत मैं अपना लंड पहुँचा ही दिया है। मैं उनकी बातें सुन कर हैरान थी की ये क्या बातें कर रहे हैं.

वो बोले माँ अभी सिर्फ़ मज़ा लो बाद मैं आप को सब कुछ बताते हैं तो मैने कहा की क्या बताओगे तो बोले की बाद मैं ओर ये कहते ही अजय मेरी एक चूची को मसलने लगा ओर एक को राहुल मसलने लगा ओर दोनो बारी बारी से मारने लगे। एक अपना लंड बाहर करता था तो दूसरा अंदर कर देता था।

मुझे बहुत मज़ा आ रहा था मैं सोच रही थी की वा क्या किस्मत है कभी एक लंड के लिए भी तरसती थी ओर आज दो दो एक साथ मिल गये हैं। दोनो ही अपनी अपनी स्पीड थोड़ी थोड़ी बड़ा रहे थे ओर मैं मस्ती मैं चूर होती जा रही थी एक लंड मेरी चूत मैं ओर एक गांड मैं अठखेलिया कर रहा था वो मेरी चूत ओर गांड की लंड से रगर खा रहे थे।

मैं बहुत खुश थी मैं आहहें भर रही थी। हर धक्के पे कर रहे थे ये लो ओर मैं अहह ये लो। उफफफफफफ्फ़ ओह हाईईईईया हह अहह उफफफफफफफ्फ़ ओर ज़ोर से मेरे अहह बचूऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊ अहह हाईईईईईईई और ज़ोर से उफफफफफ्फ़ आजज्ज हाईईईईईई इतना मजाआाआआआआआआ अहह ऊ अपनी माँममम्मममममममम की अहह उसकी सरीईईईई उउउफफफफफफफफफफ्फ़ पायस्स्स्स्स्सस्स अहह डू अहह अफ हाईईईईईईईईईईईईईई ईईईईईई ईईईईई ओर ज़ोर अहह सीईईईईईईईई ओर वो लगातार स्ट्रोक पे स्ट्रोक मार रहे थे।

अब उनकी स्पीड बडने लगी थी यह लो आह ये लो आह ये लो आह ये लो उफ़ ये लो हाईईइ ये लो अहह ये लो आह ये लो है उफ़ आह आह आह आह आह आह आहा ह आहा हा हा हा आह आह आह आह उफफफफफ्फ़ ओर तेज है उफ़ आ अहह अफ उई माँ हाई ह आह आह आह हा है मर गैईईईईई अहह आ उफफफफफफफ्फ़ ओर्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्ररर ओर्र्र्ररर हाईईईईई अहह अह उफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ है. आप ये कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

ओर तेज अरे बचूऊऊ अहह हाईईइ तुम तो दोनों हाईईईईई अपने पापा से हा अच्छा हाआआआआ ईये अहह है चोदते हाअहह हो हाई ओर तेज आ आह है ओर बहुत आ मजा दे रहे हो आह आ ओर फिर दोनो की स्पीड बहुत ही बड गई थी अब वो बारी बारी से नही एक साथ ही धक्के मार रहे थे ओर मैं आह है है आह आहा अहहहहहहाहा हाहाहाहाहई अहहा है है अहहहहाीयहहाीोह अफ अहहहहहहहहहहहहहहहहहहहहाहा कर रही थी.

फिर मेरी चूत ने पानी निकाल दिया ओर दो तिन झटको के बाद अजय ने भी मुझे कस के पकड लिया ओर उसका भी पानी निकल गया लेकिन राहुल अभी भी धक्के मार रहा था ओर फिर 4-5 धक्के मार कर वो भी फ्री हो गया ओर मेरे उपर ही लेट गया।

कोई 15 मिंनट के रेस्ट के बाद दोनो बोले की कहिए माँ कैसा लगा पापा से अधिक मज़ा आया की नही तो मैने कहा की बहुत मज़ा आया बल्कि तूने तो अपने पापा से भी अधिक मज़ा दिया पर अब बताओ की बात क्या थी तो राहुल बोला की माँ बात ये है की आप सोचती हो की आप ने तेयार किया है.

आपको चोदने के लिए लेकिन ये सारा प्लान हम दोनो का ही था आपको चोदने का तो मैं हैरान हो गई मैने पूछा की वो कैसे तो राहुल बोला की माँ बात ये है की आज से 4 माह पहले जब पापा आए थे तो पहले दिन मैं जब रात को उठा तो मैने आपके रूम मैं से आवाज़ें आती सुनी.

तो मेरा मन किया अंदर देखने का ओर मैने के हांल मैं से पापा को आपकी चूत चाटते ओर आपको उनका लंड चुसाते देखा ओर फिर अपने पापा को कहा आपका मनपसंद स्टाइल जो है आज उसी मैं चोदीय तो पापा ने कहा की ठीक है।

फिर आप घोड़ी बन गई फिर मैने नेक्स्ट दिन ये सब अजय को भी बता दिया ओर फिर तिन दिन हम दोनो ने ये सब देखा तब तक हमारे मन मैं आपको चोदने का कोई विचार नही था लेकिन 1 माह बाद मैने ओर अजय ने भी वो साइट देखी ओर कहानियाँ पड़ी ओर हमारे मन मैं भी आपको चोदने का विचार पनपने लगा ओर फिर उसके बाद पापा के आने से 10 दिन पहले आपको याद है.

जब मैं लेट हो गया था ओर अजय मेरे से बाद मैं आया था तो आप स्टडी रूम मैं थी लेकिन जब मैने डोर बेल बजाई तो आप चैटिंग करती हुई गई ओर मेरे लिए चाय बनाने चली गई लेकिन आप ने उस दिन अपनी आई डी लोग आउट नही की थी मुझे नेट पे तोड़ा काम था.

मैं वहाँ पे गया तो आपकी आई डी देखी तो समज गया की आप भी चैटिंग करते हो सो मैने आप की आई डी नोट कर ली लेकिन कुछ नही बोला ओर फिर उस दिन जब पापा आए थे तो हम वो ही सब देखने के लिए आपके रूम के बाहर खड़े थे लेकिन पापा का फोन आने की वजह से आप का सारा काम बीच मैं ही रह गया था। आप ये कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

आप ने पापा की मिनते की के ऐसे तड़पता हुवा मत जाओ लेकिन वो नही रुके उस रात मैने ओर अजय ने वो कहानी याद की मन की आग बुझाई हम दोनो ने फ़ैसला कर लिया की आप की आग बुझाएँगे ओर वैसे भी अब हमारे लंड आपकी चूत को पापा से चुदता हुआ देख कर बेचैन हो रहे थे आपको चोदने के लिए।

फिर उस रात जब आप उठ कर बाहर आई तो आपकी नींद टूटी नही थी हमने डोर लोक किया था ओर फिर आप को याद है उस दिन हम ने कहा था की पानी हमने रख दिया है लेकिन रखा नही था। हमे पता है की आप उठ कर पानी पी बिना सोती नही हो ओर फिर हमने आप को अपने लंड दिखाए लेकिन दो चार दिन आप का कोई रेस्पोंस नही था।

फिर उस दिन हमने बाहर जाने की बात की मुझे पता था की आप नेट पे चैटिंग करोगी अगर हम घर पे नही होंगे तो इस लिए मैने अब्दुल के नाम से आई डी बनाइ ओर आप से चैटिंग की ओर फिर आप को वेबसाइट बता कर ऑफलाइन हो गया। ओर फिर जब आपने वो सेक्सी कहानी पडी तो हम समज गये की काम बन गया है ओर फिर आगे तो आप जानती ही हो।

मैं उनकी बातें सुन कर हैरान थी लेकिन खुश भी थी की मेरे बच्चो ने आज मेरी आग बुझा दी है। मैने दोनो को बाहों मैं भर लिया ओर कहा की तुम ने अपनी माँ को पाने के लिए इतना कुछ किया अब मुझे कोई परवाह नही है।

अब तुम सिर्फ 2 या 3 दिन ही प्यासे रहा करोगे तुम्हारे पापा के आने पे वरना हम तीनो एक साथ एक ही बेडरूम मैं सोया करेंगे तो दोनो बोले की ठीक हैं माँ चलिए अब ज़रा दुबारा एक शिफ्ट हो जाए अबकी बार मैं चूत मारूँगा ओर अजय गांड मारेगा ओर मैने कहा की ठीक है बच्चो, ओर ये कहते हुए वो फिर मेरे जिस्म से खेलने लगे.

अब हम रोज रात का खाना खाने के बाद अपने कपड़े उतार देते हैं ओर रात को रोज खूब मस्ती करते हैं। अब तो सिर्फ़ एक माह मैं मैं सिर्फ़ तिन या चार दिन पीरियड के दिनों मैं ही चूत मरवाने से बच पाती हूँ।

वरना दोनो मुझे चोदे बिना सोते ही नही हैं लेकिन पीरियड के दिनों मैं भी दोनो मुझे अपना अपना लंड चुसवाने से बाज नही आते बल्कि दो दो बार अपना सारा पानी पीला देते हैं मुझे ओर मुझे भी बहुत अच्छा लगता है। अब मुझे इनके पापा का भी इन्तजार नही रहता है। ये दोनो मुझे भरपूर आनंद देते हैं।…….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *