बहन की सहेली की चूत गर्म कर ठोकी

बहन की सहेली की चूत गर्म कर ठोकी

मैं जो स्टोरी आपको बताने जा रहा हूं वो रियल तो है हि, Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex Hindi Sex Kahani Hindi Sex Stories साथ ही ये घटना मेरे साथ सिर्फ़ १ हफ्ते दिन पहले हुई। तो हुआ ये के मैं अपने कंप्यूटर पर बैठा ब्लू फिल्म देख रहा था, तभी कुछ देर में मेरे पापा आ गये, मैने सब बंद कर दिया। बोले के चलो सबको आज घुमा कर लाते हैं। मैने सोचा अगर मैं गया तो सारा मज़ा बेकार हो जायेगा, इसलिये मैने जाने से मना कर दिया। सब चले गये। मैं घर में अकेला था। मैने फिर से BF स्टार्ट कर दी। तभी मेरी बहन की सहेली उषा उसे पूछने आ गयी के मेरी सिस कहां है। मैने कहा के सब बाहर गये हैं। तो उसने मुझसे पूछा के तुम क्या कर रहे हो। मैने कहा के कंप्यूटर पर बैठा था। तो बोली के मैं अपना इ-मेल चेक कर लूं। मैने हां कह दिया। मैने कहा के मैं ज़रा बाथरूम से आता हूं। जब मैं आया तो देखता हूं के मैने रियल प्लेयर बंद नहीं किया था और रजनी सब कुछ देख रही थी। मैं उसे खिड़की से देखता रहा। उसका चेहरा कंप्यूटर की तरफ़ होने से उसने पीछे नहीं देखा के मैं खड़ा हूं। वो सब कुछ देख रही थी और बहुत गरम हो चुकी थी। इतने में उसने अपने मम्मे ऊपर सेa दबाने शुरु कर दिये। मेरा लंड खड़ा हो चुका था और मैं तो पक्का फ़ैसला कर चुका था के हो ना हो, ये आज मुझसे चुद कर ही जायेगी। फिर मैं थोड़ा और पीछे चला गया और हल्की सी आवाज़ निकली। वो समझ गयी के मैं आ रहा हूं। उसने प्लेयर बंद कर दिया। मैं आया तो उससे कहा के इ-मेल चेक कर लिये तो बोली के हां कर लिये। फिर मैने हिम्मत बांध कर उससे कह ही दिया के रजनी तुम जो देख रही थी वो मैं पीछे खिड़की के पास खड़ा होकर देख रहा था। तो वो शरमा गयी और कुछ नहीं बोली। मैं समझ गया के मामला फ़िट हो गया। मैने दोबारा BF स्टार्ट कर दी। अब हम दोनो देखने लगे। वो तो गरम हो ही चुकी थी। तभी मैने कहा के देखती ही रहोगी या फिर। तो वो हल्की सी मुस्कुराहट लायी। मैने तभी बिना टाइम वेस्ट किये उसके जांघ पर हाथ रख दिया। उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया। फिर मैं अपने हाथ को धीरे धीरे उसके ऊपर की तरफ़ लाने लगा। उसके मम्मे को दबाना शुरु किया। फिर उसे किस करने लगा। फिर मैने उसका एक हाथ अपने लंड पर रख दिया। वो उसके साथ खेलने लगी। करीब 5 मिनट तक हम किस करते रहे। फिर मैं उसे बेड पर ले आया और धीरे-धीरे उसके कपड़े उतारने लगा। पहले उसका सूट उतारा तो उसके ब्रा दिखने लगी। मैने उसकी ब्रा भी उतार दी। उसके मुंह से अजीब अजीब आवाज़ें निकलने लगी मानो कह रही हो के मेरी चूत को जल्दी शांत करो। उसके दूध से भरे मम्मे देख कर मैं दंग रह गया। मैने उसको चाटना शुरु कर दिया। तो बोली के पहले कपड़े तो उतार लो। फिर मैने उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया और सलवार उतार दी। उसने काले रंग की पैंटी पहनी थी। फिर मैने उसे मेरे कपड़े उतारने को कहा तो उसने पहले मेरी पैंट फिर कच्छा उतारा।
मैने बनियान में था। बनियान मैने खुद उतार दी। अब हम दोनो बिल्कुल नंगे थे। पहले मैने उसकी चूत चाटनी शुरु कर दी। तो वो बोली के ये क्या कर रहे हो। मैने कहा के असली मज़ा तो इसी में है। उसके मुंह से सिसकारियां निकलने लगी। कहने लगी, खा जाओ, फाड़ डालो मेरी चूत को और आआआह्ह्ह्ह जोर से ….ररआआअहहाआआहहह आआआह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्हह कम्म ओफ्फ्फ्फ़ आआअहहाआआहहह फिर मैने अपना 6’4″ इंच का लंड उसके हाथ में दे दिया और कहा के इसे चाटो। उसने फ़टाफ़ट अपने मुंह में ले लिया और चाटने लगी। मेरे लंड से हल्का हल्का पानी निकलने लगा। मैने कहा इसे पी जाओ। वो पीकर बोली के खट्टा खट्टा है। फिर मैं उसके पैरों के पास गया और उसकी टांगें फ़ैला दी और उससे कहा के अपनी चूत का छेद खोलो। उसने अपने चूत का छेद और चौड़ा कर दिया। फिर मैने अपना लंड जैसे ही उसकी चूत पर रखा तो उसके मुंह से आआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्ह की आवाज़ निकली। मैने एक झटका दिया और आधा लंड उसकी चुत में अटक गया। तो वो चिल्ला पड़ी और बोली के बाहर निकालो प्लीज बहुत दर्द हो रहा है। मैं कुछ देर हल्के हल्के झटके देता रहा उसकी चूत से खून निकलने लगा, मगर उसने नहीं देखा। फिर जब वो पूरे जोश में आ गयी तो मैने 1 झटका और दिया और पूरा 6’4″ का मेरा लंड उसकी चूत में गया और वो फिर से चिल्लायी। मगर मैने उसके लिप्स पर अपने लिप्स रख दिये और उसे चिल्लाने नहीं दिया। फिर वो और गरम हो गयी। उसके मुंह से आवाज़ निकली और घुसाओ और ज़ोर से मैने अपनी स्पीड और बढ़ा दी अब वो भी अपने चूतड़ उठा उठा कर साथ देने लगी और हमारी आवाज़ें निकलती रहीं आआअह्हह्हह्हह्हह म्मम्मम्मम्मम्मम्ममहये मार डाला।त्तत्तूऊऊम्मम्मम बाआआहूऊत्तत्तत्त आआआस्सछह्हह्हहीईईईईए हूऊऊऊऊओ और ज़ोर से। उसका पूरा छेद मैने फ़ाड़ डाला। करीब आधे घंटे बाद उसका पानी निकल गया। मगर मैं उसे 5 मिनट तक और चोदता रहा फिर मेरा भी पानी निकल गया। मैने अपना सारा वीर्य उसके मुंह में डाल दिया और उसे पिला दिया। फिर मैने उसे अपना लंड चाटने को कहा तो बोली के अब चुद तो मैं गयी हूं, अब क्या। तो मैने कहा के दोबारा मेरा लंड खड़ा करो। हम दोनो 69 की पोजीशन में हो गये। मेरा लंड फिर खड़ा हो गया। मैने अब उसे घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी गांड में 1 हल्का सा झटका दिया और उसकी तो मानो जान ही निकल गयी हो मगर मैं हटा नहीं। थोड़ी देर ऐसे ही रहा। फिर थोड़ी देर बाद 1 ज़बरदस्त झटका दिया और उसका मुंह अपने हाथ से बंद कर दिया। उसकी हालत तो ऐसी हो गयी मानो मरने ही वाली हो। फिर मैं ऐसे ही झटके मारता रहा। फिर वो भी मज़े लेने लगी,,,,और आआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह आआआआआआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह घुसाओ फ़ाड़ो और अपना पूरा बम्बू मेरी चूत में घुसा दूऊऊऊऊ।।।।और ज़ोर से। करीब 10 मिनट बाद मैने पानी छोड़ दिया। और सारा वीर्य उसकी गांड में छोड़ दिया। फिर मैं उसे किस करता रहा और थोड़ी देर हम ऐसे ही लेटे रहे। फिर उस दिन से मैने उसे चोदने का सिलसिला रोज़ शुरु कर दिया। जो शायद अब उसकी शादी पर ही खतम हो। समाप्त |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *