Chudai Stories पिंकी अब जवान हो गई हैं

पिंकी अब जवान हो गई हैं – [भाग 2]

antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta अन्तर्वासना Antarvasna Hindi Sex Chudai Stories पिंकी अब जवान हो गई हैं – [भाग 2]

रमेश के लंड को देख के पिंकी को टी जैसे की एकदम से सनक चढ़ गई. उसकी जवान कुंवारी चूत के अन्दर पानी आने लगा. पिंकी इसके पहले हस्तमैथुन कर चुकी थी इसलिए उसकी चूत थोड़ी ढीली हुई थी. लेकिन अगर वर्जिनिटी की बात करें तो कुंवारी चूत ही कही जा सकती थी पिंकी. पिंकी ने अब सीधे ही उस खड़े लंड को अपने हाथ में पकड लिया. रमेश ने पिंकी की और देखा और यह हॉट लड़की ने रमेश को कहा.

पिंकी: क्या मैं इसे अपने मुहं में ले लूँ, जैसी की इस सेक्स वीडियो में हमने देखा?
कुंवारी चूत में खुजली हुई

अब किसी को चूत मुहं में मिल रही हो वो फिर ब्रश करने के लिए थोड़ी जायेंगा. रमेश ने ना हां कहा ना ना. उसने पिंकी को लंड से उसके गाल पे मारा. पिंकी के गाल के उपर गरम गरम लंड के छूते ही उसकी कुंवारी चूत में जैसे की आग लग चुकी थी. पिंकी ने मस्ती से अपना मुहं खोला. रमेश ने अपना लौड़ा धीरे से उसके मुहं के अंदर रख दिया. पिंकी ने लंड चूसते हुए बड़े ही सेक्सी तरीके से रमेश को देखा. अब रमेश को पता चला की उसकी चचेरी बहन अब कोई बच्ची नहीं रही हैं. वो जवान हो चुकी हैं और उसकी कुंवारी चूत लंड खाने को तैयार हैं. रमेश ने कुछ देर तक पिंकी को लौड़ा चूसने दिया. पिंकी ने भी बड़े सेक्सी तरीके से लंड और अंड को चूस के रमेश की हालत और ख़राब कर डाली.

अब रमेश ने पिंकी की टाँगे खोली और उसकी गुलाबी चूत को देखने लगा. पिंकी ने दो ऊँगली को चूत में रख के उसके होंठो को जैसे ही खोला रमेश के लंड में अजब सी तड़प आ गई. अब वो जल्दी से इस चूत को खाना चाहता था अपने होंठो से. वो निचे बैठा और चूत को मुहं में लेने लगा. पिंकी के मुहं से सिसकियाँ निकल पड़ी. उसकी कुंवारी चूत को पहली बार मर्द के होंठो की गर्मी का अहसास जो हो रहा था. पिंकी आह आह कर के चूसन के मजे लुट रही थी और रमेश अब अपनी जबान को पिंकी की चूत के अंदर तक डाल के उसे और भी मजे देता रहा.

पिंकी की कुंवारी चूत अब पानी का तेज बहाव छोड़ चुकी थी लेकिन रमेश अभी भी उसकी गहराई तक जबान डाल के जोर जोर से चाटने में व्यस्त था. अब उसने अपनी एक ऊँगली को चूत के होंठो पे रख के रगड़ना चालू कर दिया. पिंकी की सिसकियाँ बढती ही जा रही थी अब तो. पिंकी की चूत में जैसे ही रमेश ने पूरी ऊँगली डाली वो उछल सी पड़ी और रमेश की बाहों से लिपट पड़ी.

पिंकी: रमेश भाई अब बर्दास्त नहीं होता हैं हम से. निचे बहुत ही मीठी मीठी खुजली हो रही हैं. आप अपना लिंग इसमें अभी डाल दे वरना हम इस प्यास से मर जायेंगे.

इतना सुनते ही रमेश ने पिंकी की टांगो को खोला और वो खुद उसकी दो टांगो के बिच में आके बैठ गया. रमेश इ देखा की पिंकी की चूत तो जैसे की लाल लाल टमाटर जैसी हो चुकी थी और उसके अंदर से ढेर सारा पानी भी निकल चूका था. उसने अपने लौड़े को हाथ में लिया और पिंकी की अक्षत योनी के ऊपर रगड़ने लगा. लंड की गर्मी पिंकी को और भी उत्तेजित कर रही थी. अब वो रमेश को उसकी चूत चोद देने के लिए जैसे आँखों ही आँखों से कह रही थी. रमेश भी मन ही मन में कह रहा था, मादरचोद अंदर जायेंगा तब कैसे चिखेंगी वो पता नहीं हैं तुझे.

रमेश ने एक झटका मारा और उसका आधा लंड ही अभी पिंकी की कुंवारी चूत में गया था की उसकी चीख निकल पड़ी. रमेश ने उसके मुहं को दबा दिया ताकि उसकी माँ यह सुन ना लें. पिंकी की चूत जैसे फट रही थी क्यूंकि रमेश का खड़ा चौड़ा लंड उसकी कुंवारी चूत के अंदर एक ही झटके में घुस जो गया था. 20 सेकंड्स तक रमेश ने अपने लंड को जरा भी नहीं हिलाया. और जब उसे लगा की पिंकी की चूत अब लंड से एडजस्ट हो चुकी हैं तब उसने अपने लंड को धीरे धीरे से पिंकी की कुंवारी चूत के अंदर हिलाना चालू कर दिया. पिंकी के मुहं से अभी भी आह आह ओह ओह की आवाजें निकल रही थी. लेकिन अब उनमे पीड़ा से ज्यादा प्यार और मजें के भाव थे. रमेश ने अब अपने लंड की गति को चूत के अंदर बढ़ा दिया था. उसका लंड इस चिपचिपे छेद में पच पच के आवाज के साथ मस्त अंदर बहार हो रहा था. पिंकी की टाईट चूत में रमेश का लंड मस्त फिट हो के अंदर बहार हो रहा था इसलिए उसे भी बहुत ही मजा आ रहा था.
पिंकी ने जम के चुदवाया

5 मिनिट ऐसे ही चुदाई करने के बाद रमेश ने अब पिंकी को उल्टा लेटने के लिए कहा. पिंकी ने रमेश की बात तुरंत मान ली. वो अपनी गांड उठा के रमेश के सामने उलटी लेट गई. रमेश ने अब उसके कूल्हों को खोला और काले छेद को देखने लगा. उसका मन तो था की कुंवारी चूत की बजाय गांड में ही देने को हो गया. लेकिन फिर उसने पिंकी की चूत के ऊपर अपने लंड को रखा और एक धक्का दे दिया. अब की तो लंड चूत के अंदर पूरा धंस गया. पिंकी के मुहं से आह निकल पड़ी. रमेश अब अपने लौड़े को पिंकी की चूत के अंदर झटकें मारने लगा. पिंकी भी अपनी गांड को अब जोर जोर से हिलाने लगी. रमेश के लंड के सामने पिंकी अपनी कुंवारी चूत को मार रही थी. रमेश को बहुत ही मजा आ रहा था….!

और इसी मजे में उसकी छुट भी हो गई. पिंकी की कुंवारी चूत के अंदर रमेश का गरम गरम वीर्य निकल पड़ा. पिंकी ने चूत को टाईट कर के वीर्य को चूत के अंदर समा लिया. रमेश और पिंकी ने कपडे पहन लिए और रमेश तुरंत निचे चला गया.

इस दिन के बाद तो नेहा को जैसे रमेश के लंड की आदत ही लग गई हैं….!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *