पिंकी अब जवान हो गई हैं – [भाग 1] र में बैठ के रमेश मोबाइल

पिंकी अब जवान हो गई हैं – [भाग 1]

antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta अन्तर्वासना Antarvasna Hindi Sex Chudai Stories
पिंकी अब जवान हो गई हैं – [भाग 1]

र में बैठ के रमेश मोबाइल पे ही इंडियन सेक्स विडिओ देख रहा था. उसे पता नहीं की उसकी चचेरी बहन पिंकी पीछे ही खड़ी हैं गेलरी के अंदर. कहते हैं की हरेक अच्छी खोज के पीछे कुछ नुकशान होता हैं. और उसका अनुभव आज रमेश को हुआ अपने बड़ी स्क्रीन वाले मोबाइल को ले के. बड़ी स्क्रीन मुसे सेक्स वीडियो तो साफ़ दिख रहा था लेकिन पीछे खड़ी पिंकी को भी पता चल रहा था की रमेश क्या देख रहा हैं. 2 मिनिट पिंकी ने चुपचाप देखा और जब उसकी चूत की गर्मी ने उबाला मारा तो उसने ऊपर से ही आवाज लगाईं, “रमेश भाई क्या देख रहे हो?”
सेक्स वीडियो देखते हुए पकड़ा गया

हेडफोन में आवाज कम था इसलिए रमेश को पिंकी की आवाज सुनाई दी. और पिंकी की आवाज सुनते ही रमेश के लंड में और बदन में जैसे की आग लग गई. उसने फट से मोबाइल की स्क्रीन को पलटा लेकिन तब तक तो बहुत देर हो चुकी थी. पिंकी को पता चल चूका था की रमेश सेक्स वीडियो ही देख रहा हैं. रमेश जब पीछे पलटा तो पिंकी अपने होंठो में ही मुस्का रही थी. पिंकी रमेश के चाचा की बेटी हैं. पिंकी के माँ बाप दोनों ही नौकरी करते हैं और वो उनकी एकमात्र संतान हैं. रमेश का मकान उनके बिलकुल निचे हैं. पिंकी कोलेज में जाती हैं और कुछ दिन पहले ही उसकी 18वी बर्थ-डे की केक आई थी घर पे. रमेश के मस्तक से पसीने छुट रहे थे. वो डर रहा था की कहीं पिंकी उसकी सेक्स वीडियो वाली बात उसके पिताजी को ना बोल दें. पिंकी ने रमेश से कहा, “ऊपर आइयें ना…..!”

रमेश ने इधर उधर देखा. उसकी माँ रसोईघर में थी और जाहिर था की उसने कुछ नहीं सुना था. बेचारा रमेश सोच रहा था की पिंकी कोलेज गई होंगी और अपने रेग्युलर स्पेस पे बैठ के ही वो इस देसी वीडियो का लुत्फ़ ले रहा था. ऊपर आते ही रमेश ने पिंकी को पूछा, “क्या हुआ पिंकी?”

“आप ने बताया नहीं की आप क्या देख रहे थे?” पिंकी हँसते हुए बोली.

“अरे कुछ भी तो नहीं पगली, वीडियो सोंग लगाये थे मोबाइल में.” रमेश ने बात को टालने के लिए कहा.

“मैं भी 18 की हूँ रमेश भाई, मुझे भी पता चलता हैं कुछ कुछ. हाँ मैं आप के जितनी अनुभवी नहीं हूँ लेकिन मैंने ऊपर से देखा जो आप देख रहे थे.” पिंकी के मुहं से यह सुनते ही रमेश की गांड फटने लगी.

“क्या देखा तूने, बता तो?” रमेश ने सोचा की चलो पूछ लूँ शायद पिंकी शर्मा के बात को टाल दें.

पिंकी तो उस्ताद निकली, “वही आप जो सेक्स वीडियो देख रहे थे तो.”

अब रमेश को लगा की गया बेटा तू तो. उसने पिंकी की आँखों में आँखे डाली. आज वो पिंकी कोई मासूम पिंकी नहीं थी जिसे रमेश छेड़ा करता था. रमेश की नजर जब पिंकी की छाती के ऊपर पड़ी तो पहली बार उसे लगा की उसके चीकू अब आम हो गए थे. और पिंकी की बातों से साफ़ जाहिर था की वो आम अब पक भी चुके थे जिसका रस भी निकल सकता था. रमेश ने पिंकी की और देखा और बोले, “पिंकी किसी को बताना मत प्लीज़. मैं तुझे पिज़्ज़ा खिलाऊंगा.”

“पिज़्ज़ा मैं खिलाती हूँ आप को लेकिन एक शर्त मेरी भी हैं.” पिंकी ने कहा.

“बता क्या कहती हैं तू.” रमेश ने पूछा.
मुझे भी बताओ तो किसी को नहीं कहूँगी

“आप मुझे भी वो सेक्स वीडियो बताओ तभी मैं अपनी जबान चुप रखूंगी वरना अभी निचे से बड़ी माँ को बुलाती हूँ.” पिंकी ने अब सीधे ही रमेश को ब्लेकमेल किया.

रमेश ने पिंकी को कहा, “अरे बहुत गंदे होते हैं यह सेक्स वीडियो. तू देख नहीं पाएंगी.”

पिंकी ने जब एक नहीं मानी तो रमेश उसका हाथ पकड के कमरे में ले आया. पलंग के ऊपर बैठ के उसने अब इयरफोन का एक सिरा पिंकी के कान में डाला. अब उसने वही सेक्स वीडियो वापस चलाई जिसमे एक बड़े चुंचे वाली भाभी की चुदाई दो लोग कर रहे थे. पिंकी बिना कुछ बोले सेक्स वीडियो के मजा लेने लगी. रमेश की नजर अब पिंकी के बूब्स पे जा गिरी. उसने देखा की पिंकी की छाती कस चुकी थी और उसकी टी-शर्ट के ऊपर दो छोटी बिंदु भी बने हुए थे. यह दो बिंदु थे पिंकी की मस्त निपल्स के. रमेश को अपनी और घूरता देख के पिंकी भी अब मुड़ी और बोली, “बस देखना ही हैं या कुछ करना भी हैं.?”

यह सुनते ही रमेश के लंड ने जैसे की एक गुहार लगाइ. रमेश का हाथ अब सीधे ही पिंकी के बूब्स पे जा पहुंचा. पिंकी ने भी अपने हाथ को रमेश की जांघ पे रख दिया और वहां पे सहलाने लगी. रमेश ने अपने पाँव को अब पिंकी के पाँव से घिसना चालू किया. पिंकी ने पाँव पे भी नजदीक में ही ब्लीच किया था और उसके मुलायम पाँव का अहसाह पाते ही रमेश को भी और उत्तेजना आने लगी. रमेश ने अब अपने हाथ को टी-शर्ट के ऊपर के खुले भाग से अंदर डाला. उसके हाथ पे पिंकी की ब्रा आ गई और उसके अंदर हाथ कर के उसने पिंकी की चुंचियां तलाशी. पिंकी ने रमेश के दुसरे हाथ को पकड के अपनी जींस पे रख दिया. रमेश के लिए उसने अपनी जींस की ज़िप भी खोल दी. रमेश ने ज़िप के खुले हिस्से से अपना हाथ पिंकी की पेंटी पे रख दिया. पिंकी की चूत गरम हो चुकी थी जिसका अहसास रमेश को हो रहा था.

पिंकी ने अब अपने हाथ से रमेश की पेंट की ज़िप खोली और उसके लौड़े को बहार निकाला. रमेश ने पिंकी की टी-शर्ट को ऊपर की उसे निकाल फेंकी. रमेश और पिंकी अब उत्तेजना के आखरी मक़ाम ले थे जिसके बाद की सीमा सेक्स कहलाती हैं. रमेश और पिंकी के कान में अभी भी वो सेक्स वीडियो की आह आह चल रही थी जो उनकी उत्तेजना के आवेगों को और भी बढ़ा रही थी…….अगले भाग में पिंकी की चुदाई होंगी….!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *