दीदी की चूत की क्लिट-1

दीदी की चूत की क्लिट-1

मेरी बहन बहुत सुंदर और हॉट है . उसका फिगर छरहरा और मस्त है Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex Hindi Sex Kahani Hindi Sex Stories बिना मेकप के वो बहुत सुंदर और सेक्सी दिखती है मेरी बहन का नाम रुकसाना है लेकिन मे उसे रुकसाना दीदी कह कर बुलाता हूँ . मेरे एक बहन और मम्मी और पापा हैं हम लोग ग़रीब हैं लेकिन बहुत खुश हैं दोस्तो मुझे उम्मीद है कि कहानी आपको बहुत पसंद आएगी. मेरे पापा की शॉप है और मोम हाउस वाइफ मेरी सिस्टर और मे पढ़ रहे हैं वो कॉलेज मे और मे स्कूल मे. हमारे घर मे 2 रूम हैं एक किचन और एक टीवी लाउंज है. मोम और पापा एक रूम मे और हम दूसरे रूम मे रहते हैं. हम सब मे बहुत प्यार है मे सब से छोटा हूँ इस लिए मुझे सब बहुत प्यार करते हैं मेरी दीदी मुझे बहुत चाहती हैं और वो मेरा बहुत ख्याल रखती हैं. मेरी दीदी की हाइट ५ फीट ८ इंच है उन का कलर बहुत वाइट है उनका ब्रा साइज़ 34 वेस्ट 28 आंड हिप्स 34 वो बहुत हॉट हैं. हमारे रूम मे अटॅच बाथ है जो हम दोनो शेयर करते हैं. मेरी दीदी जब कॉलेज गई तो वहाँ उनकी काफ़ी फ्रेंड्स बन गई जो दीदी को अपने घर भी ले जाती थी. दीदी उन के घर देखती तो उनका दिल भी करता कि हमारा भी अच्छा सा घर हो. एक दिन दीदी घर आईं तो पापा से कहा. दीदी: पापा मुझे कम से कम एक बेड ही ले दो मे अपनी फ्रेंड्स को घर बुलाऊं तो कम से कम कुछ तो अच्छा हो मेरे रूम मे. पापा: ओके बेटा आप कल ले आना मोम के साथ जा के अगले दिन मे मेरी मोम और दीदी हम बाज़ार गये और दीदी के लिए एक बेड और कुछ समान भी ले आए हमारे रूम के लिए. हम ने अपना रूम सेट किया हमारे रूम मे एक टेबल थी एक टेबल जिस पे बैठ के हम स्टडी करते. एक सिंगल बेड ले आए वो सेट किया रूम पैंट कराया और बहुत प्यारा डेकरेट कर दिया लेकिन हमारे घर के सब डोर बंद ना होने के बराबर हैं. घर के सब डोर मे होल्स हैं दरारे हैं जिस कि वजह से हम ने पर्दे लगाए हुए हैं. रात को जब हम सोने लगे तो मैंने अपनी जगह नीचे बना ली और दीदी बेड पे लेट गई. मे: दीदी मज़ा आ रहा है नये बेड पे? दीदी: हां भाई बहुत मज़ा आ रहा है आज तो मज़े की नींद आए गी. तुम भी ऊपर आ जाओ बहुत जगह है हम साथ सो जाएँगे. मे उठा और बेड पे आ गया दीदी के साथ लेट गया और हम इधेर उधेर की बाते करने लगे. कुछ देर बाद दीदी सो गई लेकिन मुझे नींद नही आ रही थी मे कुछ सोच रहा था. मे सोच रहा था कि रुकसाना दीदी बहुत क्यूट हैं सेक्सी भी हैं और मे उन के साथ मज़ा करना चाहता था लेकिन मुझ मे बिल्कुल भी हिम्मत नही थी. लेकिन फ्रेंड्स मे इतना भी शरीफ नही हूँ. मुझे जब भी मौका मिलता मे दीदी की नरम मुलायम गान्ड पे हाथ लगा लेता था कभी उनको गले से लगाता तो उन के बूब्स फील करता मुझे बहुत मज़ा आता था. अक्सर दीदी मुझे गले से लगाती और मुझे ब्रदर्ली किस करती तब भी मुझे बहुत मज़ा आता था. मे पहले भी काफ़ी दफ़ा दीदी क साथ सोया था. दीदी मेरा हाथ पकड़ के सोती थी और कभी मुझे गले से लगा के सोती थी मुझे नींद नही आती थी मे उनका जिस्म फील करता उनकी गरम सेक्सी साँस फील करता मुझे बहुत मज़ा आता मेरा लंड भी खड़ा हो जाता था और दीदी को टच भी होता था. वो नींद मे होती थी या फील नही करती थी या जान बूझ के कुछ न्ही कहती थी मुझे नही पता लेकिन ऐसा आक्सर होता था. फिर उस दिन हम ने बहुत काम किया और थक गये थे इस लिए दीदी जल्दी सो गई थी. दीदी ने करवट ली अब उनकी गान्ड मेरी तरफ थी. दीदी की कमीज़ पीछे से हटी हुई थी मैंने देखा तो शलवार दीदी की गान्ड मे घुसी हुई थी मेरा लंड खड़ा हो गया मैंने अपना लंड दीदी की गान्ड पे रखा और एक टांग दीदी के हिप्स पे रख दी अब मेरा लंड दीदी की गान्ड मे था मीन ऊपर से बाहर से. मे आराम आराम से आगे पीछे होता रहा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था मैंने काफ़ी देर ऐसे किया और फिर सो गया. सुबह जब मेरी आँख खुली तो मैंने देखा दीदी वॉशरूम मे थी मे उस दिन बहुत हॉट था पता नही क्यो आज मेरा बहुत दिल कर रहा था अपनी दीदी के साथ सेक्स का मज़ा करने का. मै जल्दी से उठा और वॉशरूम के होल मे से देखने लगा लेकिन सामने परदा था | आप लोग यह कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | और मुझे कुछ नज़र नही आया. मै मायूस हो के बेड पे लेट गया और आँखे बंद कर ली कुछ देर बाद दीदी बाहर आई उन्होने अलमारी ओपन की उस मे से कपड़े निकाले. मै सोचने लगा कि दीदी तो वॉशरूम मे ही चेंज कर के आती हैं आज यहाँ क्यो कर रही हैं??? फिर दीदी ने मेरी तरफ देखा और घूम गई मैंने देखा तो पीछे से दीदी की कमीज़ की ज़िप खुली हुई थी. वाउ क्या सीन था दीदी की कमर सॉफ नज़र आ रही थी इतनी गोरी कि क्या बताऊं दीदी ने वाइट कलर का ब्रा पहना हुआ था वो भी सॉफ नज़र आ रहा था. मेरा लंड खड़ा हो गया लेकिन दीदी दोबारा वॉशरूम मे चली गई और चेंज कर के वापस आ गई फिर वो तैयार हुईं और मुझे उठाया. मे उठा वॉशरूम मे गया तो दीदी के कपड़े वहीं थे मैंने दीदी की कमीज़ उठा के देखा तो उनकी ज़िप टूट गई थी जिस की वजह से दीदी ने दोबारा चेंज किया फिर मुझे तो सेक्स सीन देखने का मौका मिल गया था और मैंने मज़ा कर लिया थोड़ी देर का. फिर मैंने दीदी की शलवार देखी जो गीली थी मैंने दीदी की शलवार को सूँघा तो बहुत मीठी खुश्बू आ रही थी उस पे वो दीदी के जिस्म के पानी की वजह से गीली थी मेरा तो हाल खराब हो गया मैंने दीदी की शलवार को काफ़ी देर मूँह से लगाए रखा फिर मैंने दीदी की ब्रा तलाश की जो मुझे ना मिली शायद उन्होने चेंज नही की हो गी. मे तैयार हो के बाहर आया और ब्रेक फास्ट कर के स्कूल चला गया. शाम को मे वापिस आया अपने रूम मे गया चेंज कर के सोने लगा. कुछ देर बाद दीदी आ गई उन्होने देखा मे सो रहा था वो मेरे पास आई मुझे किस किया और चेंज करने चली गई. जब दीदी ने मुझे किस की तो मुझे दीदी के जिस्म की सेक्सी खुश्बू आने लगी जो बहुत सेक्सी थी. दीदी चेंज कर के मेरे पास आ के लेट गई और मुझे अपने साथ लगा लिया हम सो गये काफ़ी देर बाद मैंने करवट ली दीदी की साइड पे तो देखा दीदी सो रही थी और उन्होने दुपट्टा नही पहना हुआ था और दीदी के गले मे से उनका बूब नज़र आ रहा था मे दीदी के बूब्स को देखने लगा. दीदी के बूब्स बहुत सेक्सी और प्यारे हैं और दीदी के लेफ्ट बूब पे एक ब्लॅक तिल है जो बहुत प्यारा लग रहा था. मैंने हिम्मत कर के दीदी के बूब्स को टच किया लेकिन दीदी सो रही थी मे डर भी रहा था फिर मैंने 3, 4 बार दीदी के बूब्स को टच किया वो बहुत नरम था मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. फिर मे दोबारा सो गया और शाम को हम उठे स्टडी की और मे बाहर खेलने चला गया. रात को मे रूम मे आया और देखा दीदी बेड पे बैठी हुई थी स्टडी कर रही थी मे दीदी के साथ जा के लेट गया कुछ देर बाद दीदी ने स्टडी कर ली और अपनी बुक्स साइड टेबल पे रख दीं. दीदी: भाई पता है मैंने एक जगह जॉब के लिए अप्लाइ किया था और आज इंटरव्यू था और मे सेलेक्ट हो गई अब हमारे हालात काफ़ी बहतेर हो जाएँगे. तुम्हे जो चाहिए होगा मे ला दूँ गी क्यो कि तुम मेरे भाई हो मेरी जान हो. मे बहुत खुश हुआ हम ने कुछ देर बाते कीं फिर सो गये. रात को मे उठा और दोबारा दीदी क साथ चिपक गया और कुछ देर मज़ा करने लगा आज मैंने हिम्मत कर के दीदी के ऊपर अपना हाथ रखा दीदी नही उठी तो मे हाथ को आराम से दीदी के बूब्स पे ले गया कमीज़ के ऊपर से सच मे दीदी के बूब बहुत नरम हैं मुझे बहुत मज़ा आ रहा था

कहानी जारी है आगे की कहानी पढने के लिए निचे दिए गए पेज नंबर पर क्लिक करे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *