तेरी माँ बहुत चुदासी हो गयी है बेटी

तेरी माँ बहुत चुदासी हो गयी है बेटी

मेरी ये पहली स्टोरी मस्ताराम Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex Hindi Sex Kahani Hindi Sex Stories नेट पर जा रही है आशा करता हूँ आप सब मेरी कहानी से खूब मजे करेगे | मेरा नाम कासिम खान है . मित्रो मैं जब कॉलेज में पढता था तो मुझे लड़कियों के इर्द गिर्द रहना बड़ा अच्छा लगता था . मैं कई लड़कियों को लिफ्ट देने लगा . उन्हें अपनी गाडी में ले आता था और वापस छोड़ भी आता था . मैं पढ़ने में अच्छा था . देखने में भी अच्छा था . कद मेरा ६.२’” का है . मैं गोरा चिट्टा और हैंडसम लड़का था . लड़कियां मुझसे चिपकी रहती थी . धीरे धीरे लड़कियां मेरा लण्ड पकड़ने लगी . एक नहीं कई लड़कियां मेरे लण्ड की दीवानी हो गयी . जब भी मौका मिलता वे मेरी पैंट की जिप खोल कर अपना हाथ घुसेड़ देती थी . इसलिए मैंने पैंट के नीचे चड्ढी पहनना छोड़ दिया था . जिप के अंदर सीधे लड़कियों को लण्ड मिल जाता था . वे लण्ड पकड़ने के साथ साथ मुंह में भी लेने लगी . चूसने लगी मेरा लण्ड . मारने लगी मेरा सड़का . पीने लगी मेरा लण्ड .पहले मैं समझता था की लड़कियों को लण्ड पकड़ाना बड़ी टेढ़ी खीर है . पर अब ऐसा लगता था की खुदा ने अगर एक के बदले २/३ लण्ड बनाये होते तो कितना मज़ा आता ? आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है |
कॉलेज की अधिक तर लड़कियां मेरा लण्ड पकड़ चुकी थी .कई लड़कियों ने तो मेरे लण्ड की तस्वीर अपने पर्श में रखना शुरू कर दिया . मेरा लण्ड ८” का है . अगर इसे मस्ती से सहला सहला कर खड़ा किया जाए तो यह ९” तक जा सकता है . मोटा ५” से कम नहीं है . बड़ा सख्त है मेरा लण्ड और इसका अंडाकार सुपाड़ा तो इतना मस्त है की हर लड़की उसे अपने मुंह में डाल कर आम की गुठली की तरह चूसती है . मुझे भी लण्ड पकड़ाने की और लण्ड चुसाने की आदत पड़ गयी . फिर मैं आगे बढ़ता गया और लड़कियों की बुर चोदने लगा . पहले एक लड़की की बुर चोदी तो २/३ लड़कियों को मालूम हो गया तो फिर वे भी चुदवाने आ गयी . उन्हें चोदा तो २/३ और लड़कियों को मालूम हो गया . वे भी चुदवाने आ गयी . मैंने किसी को भी निराश नहीं किया . सबको चोदा . इस तरह मैं रुका नहीं और चोदता चला गया . पढ़ाई के बाद मुझे एक कॉलेज में नौकरी भी मिल गयी . वहाँ तो लड़कियों का साथ हमेशा के लिए हो गया . एक से एक बढ़कर लड़कियां मिलने मुझे चोदने को . हर साल नयी लड़कियां चोदने लगा . उस समय मुझे मालूम हुआ की

“लड़कियों में चुदाने की इच्छा लड़कों में चोदने की इच्छा से ज्यादा प्रबल होती है “

अब मेरी उम्र लड़कियां चोदते चोदते ४० साल की हो गयी है .मैंने शादी नहीं की इस डर से की कहीं मेरी लड़कियां चोदने की इच्छा पर कोई रोड़ा न लग जाये ? अब तो लड़कियों के साथ साथ लड़कियों की माँ भी चोदने लगा हूँ .लड़कियां खुद मुझे अपनी माँ चुदवाने ले जाती है .
मेरे कॉलेज में एक लड़की जिया एम् बी ए सेकंड इयर में पढ़ती है . बहुत अच्छी है और खूबसूरत भी . वह मेरे घर पढने आने लगी . मैं पढ़ाते पढ़ाते उसे गौर से देखने लगा . उसकी चूंचियां कुछ ज्याद ही बड़ी थी इसलिए में बार बार उसकी चूंची देखा करता था . वह मुझे भांप गयी और धीरे धीरे वह तंग कपडे पहन कर आने लगी . एक दिन वह जींस और टॉप में आ गयी . टॉप में केवल दो बटन . ऊपर का बटन खुला था . मुझे चूंची अंदर तक दिखने लगी . वह मेरे नजदीक आकर पढ़ने लगी . अपनी चूंची मेरे बदन पर रगड़ने लगी . तब तक उसने दूसरी भी बटन खोल दी . मैं समझ गया की वह मुझे खुली चूंचियां दिखाना चाहती है . मेरा भी दिल डोल गया .
मैंने कहा :- जिया आज तुम बहुत सेक्सी लग रही हो .
वह बोली :- हाय सर, पकड़ो न इन्हे ? ये तेरे लिए है सर . उसने मेरा हाथ अपनी चूंचियों पर रख दिया . मैं चूंची मसलने लगा . इतनी मस्त चूंचियां थी उसकी की उन्हें पकड़ते ही मेरे अंदर करंट लग गया .
वह बोली :- सर मैं कई दिनों से तुम्हे चूंची पकड़ाने की कोशिश कर रही हूँ . आज तो ठीक से पकड़ लो सर .
फिर वह आगे बढ़ गयी और मेरे लण्ड पर हाथ मार दिया और कहा सर मुझे दिखाओ अपना लण्ड ? उसके मुंह से पहली बार मैंने लण्ड सुना . बस मेरे लण्ड में आग लग गयी . आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है |
लड़कियों के मुंह से “लण्ड” सुनते ही लण्ड में आग लग जाती है .
जिया मेरी पैंट खोलने लगी . मैं उसकी टॉप उतार चुका था . उसकी गोरी गोरी सुडौल चूंचियां मेरी जान ले रहीं थी . मैंने उसकी चूंचियों के बीच अपना मुंह घुसेड़ दिया . फिर उसके नपालस पर जबान फिराने लगा . दोनों होंठों से दबा कर निपल्स चूसने लगा . कितनी मस्ती आ रही थी मुझमे ? तब तक जिया गप्प से नीचे बैठ गयी अपने घुटनो के बल . मैं खड़ा ही था . उसने झट्ट से मेरी चड्ढी नीचे खींच दी मैं एकदम नंगा हो गया उसके आगे . मेटा लौड़ा टन्ना कर उसके सामने खड़ा हो गया . उसने लण्ड पकड़ा और कह हाय सर, कितना बड़ा और मोटा है आपका लण्ड ? बड़ा प्यारा लग रहा है बहन चोद ? मैं इसे आज खा जाऊंगी सर . उसका मुंह खुल गया और वह लण्ड का सुपाड़ा चूसने लगी . दूसरे हाथ से मेरे पेल्हड़ थामे हुए थी .
उसने कहा :- सर, तेरा लण्ड बिलकुल मेरे खालू के लण्ड की तरह है . वह भी मादर ऐसा ही लगता है . फिर वह एकदम से उठी और अपना मोबाईल लेकर मेरे लण्ड की फ़ोटो खींच ली . उसके बाद वह मुझे बेड पे ले गयी और मुझे लिटा कर मेरे ऊपर चढ़ बैठी बोली भोषड़ी के कासिम आज मैं तेरा लौड़ा चोदूंगी .

कहानी जारी है …. आगे की कहानी पढने के लिए निचे दिए गए पेज नंबर पर क्लिक करे ..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *