कुवारी साली की सील तोड़ने

कुवारी साली की सील तोड़ने

दोस्तों मेरा नाम( बदला हुआ) राजीव है। मेरी उम्र 25 साल है,दोस्तों मैं एक शादी शुदा व्यक्ति हूँ ,मुझे दो बच्चे है । मैं अपनी साली की कुवारी चुत का सिल तोड़ा था। दोस्तों मै एक रियल स्टोरी शेयर करने जा रहा हूँ । अब मै सीधे स्टोरी पे आता हूँ ।मेरी पत्नी पेट से थी सातवॉं महीना चल रहा था । और अब घर का काम संभालने में मेरी पत्नी को काफी परेशानी उठाना पड़ता था ।

मेरे घर में मां तो थी मगर उससे कोई काम नहीं हो पाता था ,पिता जी का स्वर्गवास हो चुका था । तो घर का काम न होने के कारण वो अपने मायके अपनी माँ से फोन से बात की और सारी परेशानी बताई ।तो उसके माँ ने मेरी पत्नी की ममेरी बहन नितु को दो तीन महीनों के लिए रहने को कहा तो वो मान गई ।उसकी उर्म चौदह पंद्रह साल की थी उसे पढ़ने में मन भी नहीं लगता था ।तो वो मेरे यहाँ आने के लिए तैयार हो गई । मेरी जब शादी हुई थी तब उसकी उम्र लगभग नौ साल की रही होगी ।एक दम बच्ची थी ।मै शादी के बाद कभी देखा नहीं था उसे ।

जब पहली बार मैंने उसे इस उम्र मे देखा तो मुझे विश्वास ही नहीं हुआ की ये वही है जिसे मै अपनी शादी पे देखा था । तो दोस्तों नितु घर के कामों को अच्छी तरह से कर लेती थीं ।और मै पत्नी के सामने उससे बहुत कम ही कुछ बोलता था, ताकि मेरे पत्नी को कुछ बुरा न लगे ।

नितु भी कुछ कम ही बोला करती थीं हमसे ।मजाक तो समझो की होता ही नहीं था हमलोगों के बीच में । लेकिन मै जब भी नितु को देखता तो मेरे मन मे कुछ और ही भवना जाग जाता, वो दिखने मे थी ही एेसी ।सुडौल शरीर उसके बुब्स तो एकदम टाइट थे । आप लोग यह कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | एक दिन मैंने उसको नहाते हुए उसके बुब्स को देखा था । तो मेने आंखों से ही इशारा किया की एकदम मस्त है ।तो वो सरमा सी गई ।

और मेरे पत्नी को भी कुछ नहीं कहीं ।मै कभी कभी सेक्स वीडियो देखा करता था, और जब वह कभी मेरे नजदीक किसी काम से आती तो साइट से ही दिखा देता ।तो वो फट से वहाँ से भाग जाती ।ऐसा ही कुछ दिन तक मै उसे परेशान करता रहा, लेकिन वो कभी इसका विरोध नहीं की।मेरा भी पत्नी के साथ खुलकर सेक्स किए अच्छा दिन हो गया था ।एक बार मेरे बड़े बेटे का तबियत अचानक खराब हो गया ।पटना मे एक दो डॉक्टर से भी दिखाया लेकिन उसका बुखार उतर ही नही रहा था ।फिर मेरी बड़ी बहन का फोन आया, वो टाटा मे रहती थी, तो उसने कहा की यही लेकर आ जा ।तो मै तैयार नहीं हुआ ।पत्नी मेरे बहन को पटना बुलवाकर उनके साथ टाटा चली गयी ।मै बहुत ही खुश था । घर मे मेरी साली और मेरे अलावा मेरी बुडी माँ ही थी ।पत्नी के चले जाने के बाद सब लोग खाना खा कर सोने चले गए ।मै अपने कमरे मे और माँ और साली दूसरे एक कमरे मे,लगभग ग्यारह बजे मैं पेशाब करने गया ।और एक बार उन लोगों को भी उनके कमरे मे देखने चला गया, की वोलोग ठीक से सो तो गये ना ।मैने देखा की माँ तो बेखबर सो रही है उनका तो नींद की दवा भी चलती थी ।और साली भी सो रही थी,लेकिन उसके उभरे हुए बुब्स को मैने देखा वो एकदम टाइट और निप्पल खड़े खड़े दिखाई दे रहे थे ।

मेरा मन डोल गया मैं उसके नजदीक गया और उसके बुब्स पर हाथ रखा, वो जाग रही थी ।तो मै डर गया, उसने धीरे से पुछा क्या हुआ जीजा जी निंद नहीं आ रही है क्या । मैंने कहा नहीं नहीं आ रही, तो उसने कहा की चलिए मै आपकी पैर दवा देती हूँ ।मै ठीक है कहकर अपने कमरे मे आ गया ।कुछ देर के बाद वो भी मेरे पैर दबाने के लिए आ गई ।और वो मेरे पैर कुछ ही देर दबाई होगी की मेरे लंड टाइट होने लगा ।उसका हाथ मेरे लंड को बार बार टच कर रहा था, फिर मै उसे पकड कर अपनी तरफ खिंच लिया । आप लोग यह कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | वो थोड़ा सा सहमी हुई सी लग रही थी ।मैंने उसे दिलाशा दिलाया की कुछ नहीं होगा ।तुम कुछ देर ऐसे ही मेरे साथ सो और जब मुझे निंद आ जाऐगी तो वापस मा के पास चली जाना सोने के लिए ।वो कुछ नहीं बोली मैं उसे ऐसे पकड कर सो गया मानो मै अपनी पत्नी के साथ सोया हूं ….

पर ऐसे में निंद किसे आने वाली थी ।फिर मैंने अपना मोबाइल मे सेक्स वीडियो निकला फिर उसे कहा लो इसे देखो ।उसने जैसे ही देखा वो हसने लगी और देखने के लिए विरोध करने लगी ।फिर मैं उसे पकड कर दिखाई सेक्स वीडियो ।उसके बाद उसे भी अच्छा लगने लगा। और उसने तीन चार वीडियो देखा ।मैने उसे चुमना शुरू कर दिया, धीरे धीरे उसके सारे कपड़े उतार दिए, और उसके बुब्स को अपने मुँह मे लेकर चुसने लगा ।उसे खुब मजा आने लगा, मै अपने जीभ से उसके सारे शरीर को चाटना शुरू कर दिया उसके बुब्स, नाभी,जांघ, और अंत मे उसके चुत मे अपने जुबान से उसके दाने को चुसता रहा और उसके चुत मे अंदर बाहर करने लगा वो एकदम मस्त हो चुकी थी ।फिर मै 69के पोजिशन मे आ गया और मै उसके चुत को फिर से चुसना शुरू कर दिया ।उसने बिना मेरे कहे मेरा लंड को वो अपने मुँह मे लेकर चुसुने लगी, उसके चुत से पानी छुट रहा था जो जिसे मै चुसता रहा, चाटता रहा उसके चुत से पहली बार पानी बाहर आया था जो थोड़ा नमकीन और कुछ अलग ही स्वाद था ।

वो पुरी तरह से सेक्स मे डूब चुकी थी ।मै फिर अपने लंड को उसके चुत के फुड्डी पे टिकाया और धीरे से धक्का दिया तो मेरे लंड का सुपाडा चुत के अंदर गया ।उसे थोड़ा सा दर्द हुआ मै थोड़ी देर रुक गया मै उसे ज्यादा तकलीफ नहीं देना चाहता था ।मै उसे उसी के मन से चोदना चाह रहा था ।थोड़ी देर के बाद उसने खुद मेरी कमर पकड़ कर मेरे लंड को एक ही धक्के में पुरा अंदर ले लिया, उसे दर्द तो बहुत हो रहा था लेकिन सेक्स वासना मे वो इतना विलिन थी की वो सारा दर्द सहने को तैयार थी ।और मै लंड को पुरा अंदर बाहर करने लगा । ये सब करने से पहले वो सेक्स वाला’ वीडियो भी देख लिया था कि ये सब उसे करना कैसे होगा ।लेकिन मुझे डर लग रहा था की कहीं मै इसके अंदर ही स्खलित हो गया तो कहीं ये प्रेगनेंट ना हो जाए ।

लगभग तीस मिनट चोदने के बाद मै जब स्खलित होने वाला था तो अपने लंड को उसके मुँह मे डाल दिया और सारा विर्य उसके मुँह मे ही गिरा दिया । आप लोग यह कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | वो भी बड़े चाउ से मेरे लंड को चुसने लगी, उसे ये सब के बारे मे कुछ भी जानकारी नहीं थी ।उसकी चुत कुवारी थी लेकिन मैं उसकी सिल तोड चुका था ।

हाँ आराम आराम से चोदने की वजह से उसके चुत मे से खुन भी नहीं आया था ।सेक्स पुरी हो जाने के थोड़ी देर बाद मैंने उसे पुछा कि मजा आया मेरी जान, तो वो मुझे किस करते हुए बोली बहुत मजा आया ।हाँ एक बात जो मैं नहीं जानता था उसने मुझे सेक्स करने के बाद बताई कि वो अभी तक प्रियेेडस नहीं होती है।मै सुना तो मेरे होश ही उड गये मैंने उसे कहा की ये वात पहले क्यों नहीं बताया ।तो उसने पुछा क्यों क्या हुआ ।

मैं जवाब देना सही नहीं समझा, और मैंने एक घंटे के बाद फिर से उसे चोदना शुरू किया इस बार मै सारा विर्य उसके चुत के अंदर गिरा दिया ।इस बार उसे ज्यादा दर्द का सामना करना पडा।क्यो कि अपना लंड जो पांच इंच लंबा और तीन इंच मोटा लंड को पुरे अंदर तक घुसेड दिया था । आप लोग यह कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | वो कर्राह रही थी चिख रही थी, पर मै इसबार सब अंदेखा कर उसके मुँह बंद करके उसे चोदता रहा ।

लगभग तीस मिनट तक चोदने के बाद मानो वो बेहोश सी हो गयी थीं ।कुछ देर के बाद वो माँ के पास जाकर सो गई। और ये सब मेरी पत्नी के आने के पहले तक उसे रोज चोदता रहा । तो दोस्तों कैसी लगी मेरी ये रियल सेक्स स्टोरी ।बताना जरूर ये मेरा इमेल आईडी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *